भारत में नई बाइक और कारें

टाटा नैक्सॉन EV और अल्ट्रोज़ EV ज़िपट्रॉन पावरट्रेन तकनीक में की जाएंगी लॉन्च

टाटा मोटर्स ने नई ऑल इलैक्ट्रिक पावरट्रेन से पर्दा हटा लिया है जिसे नैक्सॉन और अल्ट्रोज़ के इलैक्ट्रिक वेरिएंट में उपलब्ध कराया जाएगा.

फोटो देखें
टाटा मोटर्स ने नई ऑल इलैक्ट्रिक पावरट्रेन से पर्दा हटा लिया है

टाटा मोटर्स ने नई ऑल इलैक्ट्रिक पावरट्रेन से पर्दा हटा लिया है जिसे नैक्सॉन और अल्ट्रोज़ के इलैक्ट्रिक वेरिएंट में उपलब्ध कराया जाएगा. नई इलैक्ट्रिक पावरट्रेन का नाम ‘ज़िपट्रॉन' रखा गया है जिसे इन-हाउस डिज़ाइन और डेवेलप किया गया है, इसके साथ ही पावरट्रेन की 1 लाख किमी से ज़्यादा टेस्टिंग की गई है. इसमें लीथियम-आयन बैटरी का इस्तेमाल किया गया है और फुल चार्ज करने पर इसे 250 किमी तक चलाया जा सकता है. कंपनी ज़िपट्रॉन EV तकनीक वाला पहला वाहन 2020 और दूसरा 2021 में लॉन्च किया जाएगा.

hr4h67sgपावरट्रेन की 1 लाख किमी से ज़्यादा टेस्टिंग की गई है

कार एंड बाइक से बात करते हुए टाटा मोटर्स के इलैक्ट्रिक मोटर बिज़नेस और कॉर्पोरेट स्ट्रैटेजी के प्रेसिडेंट शैलेष चंद्रा ने कहा कि, “ज़िपट्रॉन तकनीक टाटा मोटर्स की आगामी सभी इलैक्ट्रिक कारों में उपलब्ध कराई जाएगी. ऐसे में आप आराम से मान सकते हैं कि ज़िपट्रॉन पावरट्रेन तकनीक वाली अगली दो कारें अल्ट्रोज़ और नैक्सॉन इलैक्ट्रिक होंगी.”

ये भी पढ़ें : 2019 टाटा नैक्सॉन क्राज़ एडिशन भारत में लॉन्च, शुरुआती कीमत ₹ 7.57 लाख

0 Comments

टाटा ने बैटरी पैक को लिक्वि कूल्ड बनाया है और इसके नाज़ुक हिस्सों की हिफाज़त के लिए मजबूत IP67 केस में बंद किया गया है जो इसके दमदार कवच के रूप में काम करता है. कंपनी का कहना है कि कार में बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम लगाया जएगा जिससे बैटरी पैक की लाइफ 8 साल होगी. इस पावरट्रेन में पर्मानेंट मैगनेट एसी मोटर लगी है जो रीजनरेटिव ब्रेकिंग से लैस है और इससे कार की बैटरी चलते हुए भी चार्ज होती है.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.