भारत में नई बाइक और कारें

फोर्ड एकोस्पोर्ट S रिव्यूः बड़े प्राइस टैग पर भी पैसा वसूल SUV है एकोस्पोर्ट टाइटेनियम S

छोटे आकार की SUV को अपडेट किए जाने की ज़रूरत थी जिससे बाज़ार में इसे टक्कर दे रही मारुति सुज़ुकी विटारा ब्रेज़ा और टाटा नैक्सन से मुकाबला आसान हो जाए.

फोटो देखें
फोर्ड एकोस्पोर्ट एस ट्रिम फोर्ड के SUV लाइन-अप का नया टॉप वेरिएंट है

फोर्ड ऐकोस्पोर्ट ऐसी कार हे जिसने भारतीय ऑटोमोबाइल बाज़ार में सबकॉम्पैक्ट SUV का ट्रेंड शुरू किया. भारत में 4 साल से भी ज़्यादा समय बिता देने के बाद कुछ 6 महीने पहने ही फोर्ड ने इस SUV को मिड-साइकल फेसलिफ्ट मॉडल में उतारा था. लंबे समय से इस छोटे आकार की SUV को अपडेट किए जाने की ज़रूरत थी जिससे बाज़ार में इसे टक्कर दे रही मारुति सुज़ुकी विटारा ब्रेज़ा और टाटा नैक्सन से मुकाबला आसान हो जाए. फोर्ड को ज़रूरत थी कि वह अपनी कार को स्मार्ट और बेहतर बनाए और ये काम फोर्ड ने कर भी दिया है, नई एकोस्पोर्ट फेसलिफ्ट में नई स्टाइल, उन्नत इंटीरियर, स्मार्ट फीचर्स और बिल्कुल नया 1.5-लीटर पेट्रोल इंजन भी दिया है.

ford ecosport s review
एकोस्पोर्ट एस में स्मोक्ड हैडलैंप्स, सनरूफ और 17-इंच अलॉय दिए गए हैं

हैरानी और दुख की बात थी कि फोर्ड इंडिया ने अब एकोस्पोर्ट में 1.0-लीटर एकोबूस्ट इंजन हटा लिया, लेकिन इस इंजन के शौकीन लोगों की दुआ काम आई है और फोर्ड ने मई की शुरुआत में एकोस्पोर्ट एस वेरिएंट लॉन्च किया है जिसके टॉप मॉडल के साथ कंपनी ने 1.0-लीटर एकोबूस्ट इंजन लगाया है. दिखने में एकोस्पोर्ट फसेलिफ्ट एक्सटीरियर और इंटीरियर से काफी बदली हुई है जिसे कंपनी ने हाल ही में टाइटेनियम एस वेरिएंट से और उन्नत बना दिया है. एकोस्पोर्ट टाइटेनियम एस के साथ डार्क स्मोक्ड एक्सटीरियर स्टाइल, नई ब्लैक ग्रिल के साथ स्मोक्ड HID प्रोजैक्टर हैडलैंप्स और इंटीग्रेटेड LED डेटाइम रनिंग लैंप्स दिए हैं. इसके साथ ही ब्लैक्ड आउट रूफ रेल्स और SUV लुक देने के लिए 17-इंच स्मोक्ड अलॉय व्हील्स लगाए हैं.

ford ecosport s review
दिखने में एकोस्पोर्ट फसेलिफ्ट एक्सटीरियर और इंटीरियर से काफी बदली हुई है

नई फोर्ड ऐकोस्पोर्ट के केबिन की बात करें तो रिप्रेश लुक देने के लिए कार के डैशबोर्ड पर ऑरेंज कलर फिनिश दिया गया है, वहीं अपहोल्स्ट्र भी इसी कलर से मैच करने वाली दी गई है. फोर्ड एकोस्पोर्ट टाइटेनियम प्लस और एस वेरिएंट में 8.0 इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम लगाया गया है जो SYNC 3 फीचर से लैस है और एप्पल कार प्ले और एंड्रॉइड ऑटो को सपोर्ट करता है. कार में लगा स्टीयरिंग व्हील कई सारे फंक्शन्स वाला है और SUV के साथ इलैक्ट्रिक सनरूफ दी गई है जिसे कंपनी ने फन रूफ का नाम दिया है. फोर्ड एकोस्पोर्ट एस ट्रिम में अपडेटेड इंस्ट्रुमेंट क्लस्टर लगाया गया है जो क्रोम सराउंड और टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम के साथ आता है.

ford ecosport s cabin
रिप्रेश लुक देने के लिए कार के डैशबोर्ड पर ऑरेंज कलर फिनिश दिया गया है

स्पोर्टी फील देने के लिए SUV के साथ मैटल फुल पैडल लगाए हैं और सेफ्टी के मामले में भी कारा को बेहतरीन फीचर्स से लैस किया गया है. इनमें 6 एयरबैग्स (फ्रंट, साइड और कर्टन एयरबैग्स), एबीएस के साथ ईबीडी, कीलेस एंट्री के लिए फोर्ड मायकी और रिवर्स पार्किंग कैमरा स्टैंडर्ड तौर पर दिया गया है. SUV के साथ ट्रैक्शन कंट्रोल, इलैक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, ब्रेक असिस्ट और हिल स्टार्ट असिस्ट पैकेज के हिस्से में रूप में मुहैया कराए गए हैं. जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं फोर्ड एकोबूस्ट इंजन SUV के लिए कोई नई बात नहीं है, कंपनी ने इंजन को यूरोप से आयात किया है और बिना किसी बदलाव के कार में लगाया है.

ford ecosport s
इनमें 6 एयरबैग्स (फ्रंट, साइड और कर्टन एयरबैग्स), एबीएस के साथ ईबीडी दिया गया है

नई एकोस्पोर्ट में 3-सिलेंडर वाले एकोबूस्ट इंजन को 6-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स से लैस किया है. यह इंजन काफी दमदार है और चेन्नई में इस SUV को चलाते समय हमें इसका अनुभव पूरी तरह हुआ. 3000 rpm पर पहुंचते ही इस इंजन की ताकत का अंदाज़ा लग जाता है और 6000 rpm पार करते ही कार 123 bhp पावर जनरेट करना शुरू कर देती है. 2000-4500 rpm के बीच कार का इंजन 170 Nm पीक टॉर्क जनरेट करता है. जहां हमने SUV चलाकर देखी वहां पहुंचने का रास्ता काफी दुर्गम था और हमने कच्चे रास्तों पर इसे चलाकर देखा है. ऐसे में जहां काफी खराब राह से SUV गुज़री, अंदर बैठकर हमें थोड़ भी ब्रेक मारने की ज़रूरत नहीं पड़ी.

ford ecosport s review ecoboost engine
नई एकोस्पोर्ट में 3-सिलेंडर वाले एकोबूस्ट इंजन को 6-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स से लैस किया है

0 Comments

दिल्ली में एकोस्पोर्ट टाइटेनियम एस वेरिएंट की एक्सशोरूम कीमत 11.37 लाख रुपए रखी है जो पुराने एकोबूस्ट इंजन वाली प्री-फेसलिफ्ट से लगभग 1 लाख रुपए महंगी है. इस कीमत के साथ एस वेरिएंट पेट्रोल इंजन वाली सबसे महंगी सबकॉम्पैक्ट SUV बन गई है जो बाज़ार में इस वक्त बेची जा रही हैं. हालांकि फीचर्स के मामले में वाकई ये कार मुकाबले में बहुत दमदार है. कीमत ज़्यादा होने के बाद भी ये कार पैसा वसूल कही जा सकती है. इसके अलावा एकोस्पोर्ट टाइटेनियम एस के साथ 1.5-लीटर इंजन भी दिया गया है जो 99 बीएचपी पावर जनरेट करता है और दिल्ली में इसकी एक्सशोरूम कीमत 11.89 लाख रुपए रखी गई है.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.