भारत में नई बाइक और कारें

2019 में ऑटोमोबाइल जगत की सबसे बड़ी खबरें

भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री इस साल बहुत बड़े बदलावों से गुज़री है जिसमें भारत स्टेज-6 मानकों के हिसाब से तैयारी हो या फिर दो दशक में आई सबसे बड़ी मंदी.

फोटो देखें
भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री इस साल बहुत बड़े बदलावों से गुज़री है

भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री इस साल बहुत बड़े बदलावों से गुज़री है जिसमें भारत स्टेज-6 मानकों के हिसाब से तैयारी हो या फिर दो दशक में आई सबसे बड़ी मंदी. असल में 2019 ऑटोमोटिव जगत के लिए काफी महत्वपूर्ण और वेंट्स से भरा साल रहा जिसमें भारत की सबसे बड़ी ऑटोमेकर का डीजल इंजन ना बनाने के फैसले से लेकर देश की सबसे पॉपुलर स्कूटर का इलैक्ट्रिक अवतार में वापसी, हमने इस साल में बहुत बड़े बदलाव देखे हैं. अब जब हम 2019 की समाप्ती और 2020 की शुरुआत की कगार पर खड़े हैं, आपके लिए लेकर आए हैं 2019 की 9 सबसे बड़ी खबरें जो ऑटो जगत से हैं.

electric public transport fame iiभारत के कई राज्यों में इलैक्ट्रिक बसों को चलाया जाना शुरू हो गया है

फेम 2 स्कीम के तहत इलैक्ट्रिक वाहनों के लिए 10,000 करोड़ रुपए का आबंटन

2019 में इलैक्ट्रिक वाहनों को तेज़ी से अपनाए जाने और इनके निर्माण व उत्पादन के लिए दूसरी किश्त आबंटित की गई है जिसके लिए यूनियन कैबिनेट ने फेम 2 स्कीम को मंजूरी दी है. इस स्कीम के तहत सरकार ने तीन साल के लिए 10,000 करोड़ रुपए के आबंटन का ऐलान किया जिसमें 2030 तक इलैक्ट्रिक वाहनों में 100% सफलता पाने के लिए इनके उत्पादन और इंफ्रास्ट्रक्चर डेवेलप करने की बात सामने आई. स्कीम में पब्लिक ट्रांसपोर्ट वाहनों और बाकी शेयर्ड माबिलिटी जैसे - कमर्शियल थ्री-व्हीलर और फोर-व्हीलर के साथ प्राइवेट टू-व्हीलर्स को इलैक्ट्रिक बनाने पर ध्यान केंद्रित किया गया है. यहां तक कि भारत के कई राज्यों में इलैक्ट्रिक बसों को चलाया जाना शुरू हो गया है.

r0vks5ms1.3-लीटर ऑयल बर्नर डीजल इंजन का उत्पादन वित्तीय वर्ष 2019-20 में किया जाएगा

मारुति सुज़ुकी द्वारा डीजल इंजन का उत्पादन बंद करना

2019 में मारुति सुज़ुकी इंडिया का सबसे बड़ा ऐलान अपने कार लाइन-अप से डीजल वाहनों को हटाने का रहा. इंडो-जैपनीज़ कारमेकर ने बताया कि 1.3-लीटर ऑयल बर्नर डीजल इंजन का उत्पादन वित्तीय वर्ष 2019-20 में किया जाएगा, वहीं 1.5-लीटर डीजल इंजन को BS6 मानकों वाला बनाने का फैसला ग्राहकों की मांग के आधार पर किया जाएगा. फिलहाल ये नया इंजन सिआज़, अर्टिगा और एक्सएल6 में उपलब्ध कराया गया है. बता दें कि मारुति सुज़ुकी ने अपने पेट्रोल इंजन वाले 70% को डेडलाइन से पहले ही BS6 मानकों के हिसाब से बदल लिया है जो आगामी एमिशन नॉर्म्स के हिसाब से उपयुक्त हैं. इन कारों में बलेनो, स्विफ्ट, नई वैगनआर 1.2 और नई एस-प्रेसो के साथ अर्टिगा पेट्रोल और एक्सएल6 पेट्रोल शामिल हैं.

hqbljntoकंपनी ने नवंबर 2019 तक इस कनेक्टेड SUV की 13,000 बेच ली हैं

हैक्टर SUV के साथ MG मोटर की भारत में एंट्री

इस साल हमने आईकॉनिक मॉरिस गैराजेस उर्फ MG मोटर की भारत में एंट्री देखी है जिसने हैक्टर कनेक्टेड SUV के साथ देश में पांव पसारे हैं. चीन की SIAC मोटर कॉर्प का हिस्सा MG मोटर इंडिया ने जनरल मोटर्स का गुजरात स्थित हलोल प्लांट खरीदा है और यहीं कंपनी MG हैक्टर का उत्पदन भी करती है. यहां तक कि कंपनी ने नवंबर 2019 तक इस कनेक्टेड SUV की 13,000 बेच ली हैं. MG मोटर इंडिया अब भारत में अपने दूसरे वाहन को लॉन्च करने की तैयारियों में जुटी है जो पूरी तरह इलैक्ट्रिक MG ZS EV है. बता दें कि कंपनी ने पहले ही इस इलैक्ट्रिक SUV के लिए प्री-बुकिंग्स शुरू कर दी हैं और इसे जनवरी 2020 में लॉन्च किया जाना तय है.

ये भी पढ़ें : 2019 में हुए 9 सबसे बड़े कार लॉन्च

njq6uv3देश में पेट्रोल-डीजल वाहनों को बैन करने का सरकार का कोई इरादा नहीं है

पेट्रोल या डीजल वाहनों की रोक पर सरकार का स्पष्टिकरण

भारत में डीजल और पेट्रोल वाहनों के भविश्य को लेकर लगाए जा रहे सभी कयासों का खत्म करते हुए सड़क परिवहन और हाईवे मंत्री नितिन गडकरी ने ऐलान किया है देश में पेट्रोल-डीजल वाहनों को बैन करने का सरकार का कोई इरादा नहीं है. इस साल सितंबर में आयोजित 59वें वर्षिक SIAM सम्मेलन में गडकरी ने कहा कि भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के देश में निर्यात बढ़ाने और रोजगार देने में में जो योगदान है उससे सरकार भली-भांति परिचित है. ऐसे में सरकार पेट्रोल और डीजल वाहनों पर भारत में प्रतिबंध नहीं लगाने वाली है. इस इंडस्ट्री ने निर्यात को काफी बढ़ाया है और बहुत सारे रोजगार के अवसर भी उपलब्ध कराए हैं, लेकिन सरकार कई सारी परेशानियों का सामना कर रही है जिनमें पहला कच्चे तेल के आयात पर भारी व्यय, दूसरा प्रदूषण और तीसरा सुरक्षा है. ऐसे में वाहनों का इलैक्ट्रिफिकेशन भी उतना ही महत्वपूर्ण हो गया है.

og1h2cgsकंपनी ने आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में अपना उत्पादन प्लांट शुरू किया है

किआ मोटर्स की भारत में सेल्टोस के साथ एंट्री

किआ मोटर्स ने भारत में आधिकारिक एंट्री अगस्त 2019 में की है और कंपनी ने भारी मुकाबले वाले कॉम्पैक्ट SUV सैगमेंट में किआ सेल्टोस लॉन्च कर दी है जिसका मुकाबला MG हैक्टर, ह्यूंदैई क्रेटा और निसान किक्स जैसी कारों से हो रहा है. कंपनी ने आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में अपना उत्पादन प्लांट शुरू किया है जहां सेल्टोस के साथ कंपनी के आगामी उत्पाद किआ कार्निवल और नई सबकॉम्पैक्ट SUV का उत्पादन किया जाएगा. यहां तक कि किआ ने ये कहा है कि अगले तीन साल तक कंपनी भारत में हर 6 महीने में एक नया वाहन लॉन्च करेगी. नवंबर में किआ ने ऐलान किया था कि कंपनी ने अबतक सेल्टोस की 26,800 यूनिट ग्राहकों के सुपुर्द की हैं, इसी महीने 14,000 यूनिट बेचकर सेल्टोस देश की सबसे ज़्यादा बिकने वाली SUV बनी थी. सेल्टोस भी कनेक्टेड SUV है जो यूवीओ कनेक्टिविटी सिस्टम के साथ आती है, ये सिस्टम कार को 37 स्मार्ट फीचर्स उपलब्ध कराता है जिसमें जिओफेसिंग, रिमोट इंजन स्टार्ट के साथ एसी कंट्रोल, इमरजेंसी असिस्टेंस, नेविगेशन और टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम जैसे कई और फीचर्स शामिल हैं.

car saleवाहनों की बिक्री में 31.57% की कमी दर्ज की गई

पैसेंजर वाहनों पर छाई दो दशकों की सबसे बड़ी मंदी

ऑटो इंडस्ट्री पर छाई मंदी ने इस साल कार निर्माता कंपनियों की बिक्री पर बहुत बड़ा असर डाला, लेकिन इसमें भी अगस्त 2019 ऐसा महीना रहा जिसमें मंदी की सबसे ज़्यादा मार पड़ी. इस महीने ऑटोमोटिव जगत की कुल बिक्री वित्तीय वर्ष 1997-98 के समान पाई गई जो कंपनियों के लिए बड़ा झटका थी. Year-On-Year के आधार पर वाहनों की बिक्री में 31.57% की कमी दर्ज की गई और 10वें महीने लगातार गिरी रही बिक्री अगस्त 2019 में 1,96,524 यूनिट पर पहुंच गई. पैसेंजर वाहनों की बिक्री में आई कमी की बात करें तो पैसेंजर कारों की सेल्स में सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई जो 1,15,957 यूनिट के साथ 41.09% थी. उस समय SIAM के प्रसिडेंट राजन वाधेरा ने ऑटो जगत पर छाई इस मंदी को काफी चिंताजनक बताया था.

ये भी पढ़ें : किआ जनवरी 2020 से बढ़ाएगी सेल्टोस SUV की कीमत, इनके लिए लागू होंगे नए दाम

e38th5igनए वेंचर में महिंद्रा का 51% हिस्सा होगा, वहीं फोर्ड की इसमें 49% भागीदारी होगी

महिंद्रा और फोर्ड के जॉइंट वेंचर का ऐलान

इस साल भारत की ऑटोमेकर महिंद्रा एंड महिंद्रा और अमेरिका की कारमेकर फोर्ड मोटर कंपनी ने भारतीय बाज़ार के लिए नया जॉइंट वेंचर ब्रांड बनाने की घोषणा की है. इस नए वेंचर में महिंद्रा का 51% हिस्सा होगा, वहीं फोर्ड की इसमें 49% भागीदारी होगी. महिंद्रा द्वारा चुने गए चेयरमैन के साथ इस बोर्ड में दोनों कंपनियों की 50-50 भागीदारी होगी. नए जॉइंट वेंचर के अंतर्गत भारत में फोर्ड की स्थिति मजबूत करने और कंपनी के उत्पादों को दुनियाभर में निर्यात करने का काम किया जाएगा. ब्रांड भारत में ही काम करेगा और नए जॉइंट वेंचर संभवतः 2020 के मध्य से काम करना शुरू करेगा. महिंद्रा और फोर्ड मिलकर वाहन बनाएंगे जिसमें फोर्ड ब्रांड के अंतर्गत नए यूटिलिटी वाहन बनाएं जाएंगे जिनकी शुरुआत नई मिड-साइज़ SUV से होगी और इनमें प्लैटफॉर्म दोनों कंपनियों द्वारा शेयर किया जाएगा. बता दें कि फोर्ड भारत में अपना सारा व्यापार इस जॉइंट वेंचर में लगाने वाली है.

tem6sa98नए रेट्रो-क्लासिक डिज़ाइन की इस स्कूटर को आधुनिक फीचर्स और एक्विपमेंट दिए जाएंगे

बजाज की स्कूटर सैगमेंट में इलैक्ट्रिक चेतक के साथ वापसी

2019 में भारत की सबसे पॉपुलर स्कूटर के साथ बजाज ने 14 साल बाद वापसी का ऐलान किया है, लेकिन कंपनी इस बार इस स्कूटर को पूरी तरह इलैक्ट्रिक अवतार में पेश करेगी. पुणे आधारित कंपनी की ये पहली इलैक्ट्रिक स्कूटर होगी और ये कंपनी के इलैक्ट्रिक वाहन ब्रांड अर्बनाइट के बैनर तले बेची जाएगी. नए रेट्रो-क्लासिक डिज़ाइन की इस स्कूटर को आधुनिक फीचर्स और एक्विपमेंट दिए जाएंगे, इसके अलावा कंपनी का कहना है कि ये स्कूटर पूरी तरह इन-हाउस डेवेलप की जाएगी. हालांकि बजाज चेतक इलैक्ट्रिका दिखने में काफी-कुछ वेस्पा GTS 300 जैसी होगी. इलैक्ट्रिक चेतक में IP67 रेटेड हाईटेक लीथियम-आयन बैटरी लगाई जाएगी जो NCA सेल्स से लैस होगी. इसे सामान्य 15 एम्पियर इलैक्ट्रिक आउटलेट से चार्ज किया जाएगा और एक चार्ज में ये 100 किमी तक चलाई जा सकेगी.

ruu9nil4भारत में अगले दो साल में फोक्सवेगन की कम से कम 10 SUV लॉन्च की जाएंगी

2021 तक फोक्सवेगन ग्रुप लॉन्च करेगी 10 नई SUV

0 Comments

फोक्सवेगन ग्रुप की इस साल की सबसे बड़ी खबर कंपनी का लॉन्च प्लान बनी जिसमें भारत में अगले दो साल में फोक्सवेगन की कम से कम 10 SUV लॉन्च किए जाने की बात सामने आई है. पहली बार इस खबर का खुलासा करते हुए हमने आपको बताया था कि कंपनी देश में अपने वैश्विक मॉडल लॉन्च करने वाली है जिसमें फोक्सवेगन टिगुआं ऑलस्पेस, टी-रॉक, स्कोडा कारोक और कोडिएक आरएस शामिल हैं जो 2020 में लॉन्च की जाएंगी. फोक्सवेगन टी-क्रॉस और स्कोडा केमिक कॉम्पैक्ट SUV के भारतीय स्पेसिफिकेशन वाले वर्ज़न भी लॉन्च करेगी जो कंपनी के इंडिया 2.0 प्रोजैक्ट का हिस्सा होंगे. स्कोडा की आगामी SUV को स्कोडा विज़न इन कॉन्सेप्ट पर बनाया जा रहा है जिसे 2020 ऑटो एक्सपो में शोकेस किया जाएगा. दूसरी ओर फोक्सवेगन का लग्ज़री ब्रांड ऑडी भी भारत में कई नई SUV लॉन्च करेगा जिनमें दूसरी जनरेशन Q3, पूरी तरह इलैक्ट्रिक ई-ट्रॉन, Q8 लग्ज़री क्रॉसओवर शामिल हैं.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.