भारत में नई बाइक और कारें

5 साल के भीतर आसमान में दखेंगी उड़ने वाली कारें, जानें और क्या बोले इंटेल के टॉप बॉस

सीनेट के साथ एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में नंदुरी ने फ्लाइंग कारों (उड़ने वाले वाहन) की तकनीक को भविष्य में होने वाला एक निश्चित आविश्कार बताया है.

फोटो देखें
नंदुरी ने फ्लाइंग कारों की तकनीक को भविष्य में होने वाला एक निश्चित आविश्कार बताया है

सड़कों के अलावा कार हवा में भी उड़ सकती है ये बात कई बार अलग-अलग कंपनियां सिद्ध कर चुकी हैं. इंटेल के ड्रोन चीफ अनिल नंदुरी का मानना है कि आने वाले पांच साल में उड़ने वाली टैक्सी हमें दिखने लगेंगी. सीनेट के साथ एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में नंदुरी ने फ्लाइंग कारों की तकनीक को भविष्य में होने वाला एक निश्चित आविश्कार बताया है. जहां इस बात की पुष्टि के लिए कोई फ्लाइंग कार उपलब्ध नहीं है, वहीं नंदुरी का मानना है कि हमें जल्द ही आसमान में ऐसी कारें देखने को मिलेंगी.

 

आजकल ड्रोन काफी कारगर साबित हो रहे हैं और मनोरंजन, जांच, यहां तक कि होम डिलिवरी के लिए इन्हें भारी मात्रा में इस्तेमाल किया जाना शुरू हो चुका है. नंदुरी का कहना है कि समान ऑटोनोमस तकनीक पर आधारित ये उड़ने वाली कार जमीन पर होने वाले ट्रैफिक की तीन तरफा चुनौती से निजात दिलाने में सफल होगी. नंदुरी का मानना है कि अगले दस साल में शहरी सड़कों को जाम से निजात दिलाने के लिए उड़ने वाली टैक्सी का इस्तेमाल शुरू कर दिया जाएगा.

 

0 Comments

उड़ने वाली कारें जहां सड़कों पर ट्रैफिक को कम करने में सहायक होंगी, वहीं इन्हें लेकर कई सारी शंकाएं भी हैं जिनमें मुख्य रूप से सुरक्षा और सहूलियत को शामिल किया गया है. नंदुरी ने कहा कि ऑटोनोमस ड्राइविंग तकनीक और उड़ने वाली कारों से होने वाले फायदे इसे लेकर मिलने वाली चुनौतियों के मुकाबले कई ज़्यादा होंगे. इसे लेकर उन्होंने कहा कि वाहनों को हवा में उड़ाने वाली लागत जमीन के अंदर चलाने पर आने वाली लागत काफी कम है.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.