भारत में नई बाइक और कारें

ड्राइविंग लायसेंस के साथ आधार लिंक करना जल्द होगा अनिवार्य - रविशंकर प्रसाद

यूनियन लॉ एंड जस्टिस एंड इलैक्ट्रॉनिक्स एंड IT मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पंजाब के फगवाड़ा में हुई 106वीं इंडियन साइंस कांग्रेस में यह बात बताई है.

फोटो देखें
सरकार ड्राइविंग लायसेंस के साथ आधार लिंक करना अनिवार्य करने वाली है

भारत सरकार जल्द ही ड्राइविंग लायसेंस के साथ आधार लिंक करना अनिवार्य करने वाली है. यह बात यूनियन लॉ एंड जस्टिस एंड इलैक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने पंजाब के फगवाड़ा में हुई 106वीं इंडियन साइंस कांग्रेस में बताई है. इस कार्यक्रम में बोलते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि, “हम कानून में एक और बड़ा बदलाव करने वाले हैं जो बिल संसद में लंबित है. जल्द ही मोटर वाहन लायसेंस के साथ आधार को लिंक करना अनिवार्य होगा.” केंद्रीय मंत्री ने आधार को व्यक्तिगत पहचान में सहायक सबसे बड़े बदलाव के रूप में प्रस्तुत किया.

aadhaar aadhar logo

चालक द्वारा सुरक्षा नियम तोड़ने पर हुए चालान का भी रिकॉर्ड रखा जाएगा

ड्राइविंग लायसेंस के साथ आधार लिंक करने की ज़रूरत को लेकर प्रसाद ने समझाया कि, “मान लीजिए एक व्यक्ति ने वाहन से 4 लोगों की हत्या कर दी और वह पंजाब से फरार होकर किसी और राज्य पहुंच जाएगा, इसके बाद वह दूसरे पहचान पत्र से डुप्लिकेट लायसेंस बनवा सकता है. आधार से लिंक होने के बाद वह नाम तो बदल सकता है लेकिन अपनी पहचान नहीं. ऐसे में जब भी ऐसा कोई व्यक्ति दूसरे पहचान पत्र से डुप्लिकेट लायसेंस बनवाना चाहेगा तो सिस्टम तुरंत बताएगा कि इस व्यक्ति के पास पहले से लायसेंस है और उसे दूसरा लायसेंस नहीं दिया जाना चाहिए.”

ये भी पढ़ें : नए वाहन में अब पहले से लगी मिलेगी हाई-सिक्योरिटी नंबर प्लेट, अप्रैल 2019 से लागू

0 Comments

आधार अनिवार्य होने के बाद फर्जी लायसेंस या डुप्लिकेट लायसेंस के जारी किये जाने पर रोक लग सकती है. इसके अलावा चालक द्वारा सुरक्षा नियम तोड़ने पर हुए चालान का भी रिकॉर्ड रखा जाएगा जिसके बाद बिना चालान दिए वाहन चलाना और भी कठिन होगा. प्रसाद ने बताया कि भारत में ड्राइविंग लायसेंस हासिल करने की प्रक्रिया सालों से बहुत अव्यवस्थित है, ऐसे में इसे बेहतर बनाने का काम सरकार कर रही है. भारत सरकार लगातार बेहतर ड्राइवर ट्रेनिंग स्कूल्स शुरू कर रही है जिससे ज़रूरी काबीलियत ड्राइवर्स तक पहुंचाई जा सके और भारत में ड्राइविंग ज़्यादा बेहतर के साथ सुरक्षित की जा सकेगी.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.